बच्चों को सर्दी-जुखाम से बचाने वाला काढ़ा | How to make Kadha for Cough and Cold in Hindi

Pinterest LinkedIn Tumblr +

अक्सर सर्दी जुखाम की समस्या बच्चों में आम देखी  जाती है, ये आमतौर पर उनके खान-पान या मौसम में आए अचानक बदलाव के कारण हो जाता है। सर्दी जुकाम की समस्या को आप घर बैठे ही आसानी से काढ़े से आराम पा सकते हैं। आइयें आज जानते हैं काढ़ा (Kadha) के बारें मे कुछ अहम बाते हैं और साथ में काढ़ा बनाने का आसान तरीका (Kadha banane ka tarika)। चलिए जानते हैं कि

  1. काढ़ा क्या होता है? 
  2. सर्दी जुकाम से बचने के लिए काढ़ा कैसे बनाएं 
  3. बच्चों को काढ़ा कैसे पिलाएं 

1- काढ़ा क्या होता है? (What is Kadha in Hindi)

वैसे तो काढ़ा हमारे देश में सदियों से ही बहुत उपयोग में लाया जा रहा है , और ये सर्दी-जुखाम एवं इम्यूनिटी बढ़ने के लिए बहुत कारगर उपाय है तथा इसके बहुत से औषधिये गुण है जो की काढ़े में प्रयोग होने वाली सामग्री पर निर्भर करता है। हौम्योपैथी पद्धथी में भी काढ़े का उचित स्थान है।

आइये जानते है कुछ ऐसे काढ़ा के बारें में जिसे आप घर पर ही आसानी से शिशु के लिए बना सकती हैं। इन काढ़े का उपयोग आप भी कर सकती हैं। काढ़ा बनाने का तरीका (kadha banane ka tarika)

2- सर्दी जुकाम से बचने के लिए काढ़ा कैसे बनाएं ? (How to Make Kadha for Cold in Hindi)

1- तुलसी का काढ़ा (Tulsi Kadha Recipe in Hindi) :-

आवश्यक सामग्री :- 

  • 10 -12 तुलसी के पत्ते 
  • 1 छोटा अदरक का टुकड़ा 
  • 1 चम्मच शहद ,आधा चम्मच निंबू का रस
  • 2 साबुत काली मिर्च तथा एक चुटकी हल्दी 

काढ़ा  बनाने की विधि :- 

क) अब एक पैन में कप का पानी गैस पर गरम होने के लिए धीमी आंच पर रख दीजिये। 

ख) अब इसमें तुलसी के पत्ते,  1 छोटा अदरक का टुकड़ा ,२ साबुत काली मिर्च तथा हल्दी  आदि मिला दीजिये।

ग) अब लगभग 5 मिनट तक इसे धीमी आंच पर पकने दें।  

घ) जब पानी लगभग आधा हो जाए तब गैस को बंद का दें तथा इसमें 1 चम्मच शहद और आधा चम्मच निम्बू कर रास मिला कर थोड़ा ठंडा होने दें। 

जब काढ़ा थोड़ा ठंडा हो जाये तो इसे बच्चे को पिलायें। यह बच्चों के सर्दी- जुखाम से लिए बहुत ही लाभदायक औषधि है। इसके कोई साइड इफेक्ट्स भी नहीं हैं। जहाँ एक तरफ ये काढ़ा बच्चों के सर्दी-जुखाम को ठीक करता है वहीं दूसरी ओर ये बच्चों के इम्यूनिटी सिस्टम को भी मजबूत करता है जोकि बच्चों के रोगों से लड़ने की क्षमता को बढ़ता है।

2-  शहद और इलायची का काढ़ा 

आवशयक सामग्री

  • पानी एक से डेढ़ कप 
  • एक चम्मच शहद 
  • 2 -3  लौंग तथा आधा चम्मच इलायची पावडर 

काढ़ा बनाने की विधि- 

पानी को एक पैन में डाल कर लगभग 5 मिनट पकायें , अब इसमें इलायची पाउडर और लोंग  डालें| 

यह भी पढ़ें: बच्चों को सर्दी जुक़ाम से बचाने के घरेलू उपाय

अब लगभग २-3 मिनट और पकने दें। जब पानी आधा हो जाए तो इसे छान कर हल्का ठंडा करके शिशु को दीजिएं। आप इसमें शहद या गुड़ भी मिला सकती हैं। गुड़ के तासीर गर्म होती है जो शिशु के लिए अच्छा है। 

3- अदरक काली मिर्च का काढ़ा (Sardi ke Liye Adrak ka Kadha Banane ka Tarika)

आवश्यक साम्रगीः 

  • आधा टुकड़ा अदरक
  • एक कप पानी
  • 4 काली मिर्च
  • 2 लौंग
  • 4-5 तुलसी के पत्ते
  • 1 छोटी इलायची और चाय पत्ती।

काढ़ा बनाने की विधिः 

सबसे पहले पैन में 2 कप पानी उबालें। जब पानी उबल जाए तो तुलसी के पत्तों को काट कर और लौंग़ कूट कर डाल दें। फिर छोटी इलायची और अदरक का टुकड़ा पीसकर भी डाल दें। अब काली मिर्च को तोड़ कर उबलते पानी में डालें। बच्चों के लिए आप इसमें गुड़ मिला सकती हैं। जब यह मिश्रण उबलकर आधा रह जाए तो गैस बंद कर दें और फिर इसे छान लें। गुनगुना होने पर बच्चे को पिलाएं। इसे स्टोर करके रख सकती हैं और दो दिन तक प्रयोग कर सकती हैं। 

4- बच्चों का फेवरेट इलायची-शहद का काढ़ा

साम्रगीः 

  • दो इलायची एकदम बारिकी पीसी हुई 
  • दो चम्मच शहद 

काढ़ा बनाने की विधि

दो कप उबलते हुए पानी में इलायची का पावडर डालें। जब पानी आधा रह जाए तो आंच बंद कर दीजिएं और इसमें शहद मिला लीजिएं। इसे बच्चे प्यार से पी लेते हैं क्योंकि इसका स्वाद मिठा होता है। 

5- सर्दी खांसी के लिए स्पेशल काढ़ा- (How to Make Special kadha for Cough and Cold in hindi)

सामग्री:

  • जल- दो कप
  • काली तुलसी की पत्ती- एक
  • काली मिर्च- 4 से 5
  • लौंग- 2 से 3 पीसी हुई
  • छोटी इलायची- 2 से 3
  • अदरक- एक चम्मच (कद्दूकस किया हुआ)
  • गुड़- स्वादानुसार
  • चाय पत्ती- थोड़ी सी

काढ़ा बनाने की विधि

काढ़ा बनाने के लिए आप दो कप पानी को अच्छे से उबाल लीजिए, जब पानी उबलने लगे तब उसमें पिसी हुई लौंग, काली मिर्च, इलायची, अदरक और गुड़ डाल दे। थोड़ी देर बाद इसमें काली तुलसी की पत्तियां भी डाल दें। अंत में चाय पत्ती डाल कर उबालें। जब पानी आधा रह जाए तो इसे आंच से उतार कर गुनगुना होने दें। 

इसे बच्चे को गुनगुना ही पीने के लिए दीजिएं। इसे बनाने में थोड़ा समय अवश्य लग सकता है लेकिन यह बच्चे के लिए काफी गुणकारी होता है। इसे आप स्टोर करके भी शीशी में रख सकती हैं। 

3- बच्चों को काढ़ा कैसे पिलाएं? 

कई बार काढ़े का स्वाद कड़वा हो सकता है जिसे बच्चा पीने से मना कर सकता है। इसके लिए आप इसमें गुड़ या शहद मिला सकती हैं लेकिन चीनी नहीं मिलाएं। काढ़े को दिन में दो या तीन बार बच्‍चे को गुनगुना पिलाएं। ध्‍यान रखें कि काढ़ा ना गर्म होना चाहिए ना ही ज्यादा ठंडा। एक साल से अधिक उम्र के बच्‍चों को ही काढ़ा देना है और इससे छोटे बच्चों को नहीं।

अगर आपको यह ब्लॉग अच्छा लगे तो इसे अपने दोस्तों व परिचितों के साथ शेयर करें और कमेंट में अपनी राय (Feedback) जरूर दें। आप की राय Babymomtips.com के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण हैं ताकि हम इसे आप के लिए और बेहतर बना सके।

Thanks to you

माँ हैं,  तो Don’t Worry
BABYMOMTIPS.COM

 

Share.

About Author

Leave A Reply